The Making of a Global World | Bhumandlikrit Vishva Ka Banana

जब हम वैश्वीकरण की बात करते हैं | तब सबसे पहले हमारे जेहन में एक ही विचार आता है | वैश्वीकरण मतलब पूरे विश्व में आने जाने की सुविधा | इसी के साथ पूरे विश्व में मुक्त व्यापार के साधन | (Bhumandlikrit Vishva Ka Banana)

काम की तलाश में लोगों का एक देश से दूसरे देश में विस्थापन | पूंजी एवं दूसरी अन्य वस्तुओं की आवाजाही की वैश्विक व्यवस्था | व्यापारी, पुजारी, तीर्थयात्री, यात्री पुराने काल से ही ज्ञान, अवसर और आध्यात्मिक शांति के लिए दूर-दूर से यात्राएं करते रहे हैं | यही वैश्वीकरण है |

सबसे पहले सिल्क मार्ग के बारे में पता चलता है | सिल्क मार्ग एशिया को यूरोप और उत्तरी अफ्रीका से जोड़ता था | इसी रास्ते से एशिया के कपड़े दुनिया के दूसरे भागों में पहुंचते थे | वापसी में सोना, चांदी एवं कीमती धातु भी आती थी | जब यात्री यात्रा करते थे |

उस समय उनके साथ झटपट तैयार होने वाले कुछ खाद्य पदार्थ हुआ करते थे | ताकि वह आसानी से कहीं पर भी रुककर खाना खा सके | अपने पेट की भूख को शांत कर सकें | इसी के साथ नूडल्स चीन से पश्चिमी देशों में पहुंचे | (Bhumandlikrit Vishva Ka Banana)

यात्रा करते करते क्रिस्टोफर कोलंबस एक अज्ञात महाद्वीप पर पहुंच गए | जिसे आज अमेरिका के नाम से जाना जाता है | अमेरिका से मतलब उत्तर अमेरिका, दक्षिण अमेरिका एवं कैरेबियन द्वीप समूह थे | अठारवीं सदी तक चीन एवं भारत को दुनिया के धनी देशों में गिना जाता था |

18 वी सदी के अंत में ब्रिटेन में कॉर्न लॉ लागु किया गया | क्यों कि वैश्वीकरण के कारण आयातित वस्तुएँ सस्ती थी | लेकिन महँगाई चरम पर पहुंच गई | खाद्य वस्तुओं के भाव आसमान छूने लगे | अंत में भारी विरोध के कारण कॉर्न लॉ को वापिस लेना पड़ा |

गिरमिटिया श्रमिक :-

भारत से भी मजदूरों को ले जाया जाता था | ये विशेष अनुबंध के तहत ले जाये जाते थे | इसलिए इनको गिरमिटिया श्रमिक कहा जाता था | ये मुख्यतया पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, मध्य भारत और तमिलनाडु के सूखे क्षेत्रो से जाते थे |

इनका बागान मालिक के साथ अग्रीमेंट होता था | यदि कोई पाँच वर्ष तक बागान में काम कर लेगा | तब वह स्वदेश लौट सकता है | भारतीय श्रमिक ज्यादातर कैरीबियाई द्वीप समूह जाया करते थे | इस व्यवस्था को “नयी दास प्रथा” भी कहा जाता था |

वैश्वीकरण के परिणामस्वरूप रिंडरपेस्ट नामक बीमारी अफ्रीका तक फैल गई | इससे अफ्रीका के मवेशी मर गए | अर्थव्यवस्था लड़खड़ा उठी | यूरोपीय देशों ने कब्ज़ा कर लिया | अफ्रीका के खनिज दूसरे हाथो में चले गए | अफ्रीकी किसान से मजदुर बन गए |

DescriptionDownload
Link
Book Full Chapter In HindiClick Here
Book Full Chapter In EnglishClick Here
Full Chapter Solutions In HindiClick Here
Full Chapter Solutions In EnglishClick Here
Chapter Quiz In HindiClick Here
Chapter Quiz In EnglishClick Here

An aspiring Teacher formed an obsession with book solutions, videos, Notes, Quizes and Helping Beginners To Build the Amazing World.

Leave a Comment